क्रिस्टोफर एंड डाना रीव फ़ाउंडेशन ने अंतर्राष्ट्रीय सूचना संसाधन पृष्ठ लॉन्च किए

Posted by Reeve Staff in Daily Dose on June 09, 2021 # हिंदी

नए अंतर्राष्ट्रीय पृष्ठ, गतिशीलता हानि या पक्षाघात से पीड़ित व्यक्तियों के लिए निःशुल्क, सटीक और सांस्कृतिक रूप से संवेदनशील संसाधन प्रदान करते हैं। नई पेशकशों में पीआरसी सेवाओं और कार्यक्रमों पर संसाधन, सबटाइटल वाले वीडियो, शैक्षिक विषय (जैसे अनुसंधान, पुनर्वास, यात्रा, आदि) और हमारी सूचना विशेषज्ञ टीम तक आसान पहुँच शामिल है। इसके अतिरिक्त, अनुवादित प्रकाशन जैसे पक्षाघात संसाधन मार्गदर्शिका, वॉलेट कार्ड और रोगी शैक्षिक पुस्तिकाएँ पक्षाघात से पीड़ित व्यक्तियों, उनके देखभालकर्ताओं और स्वास्थ्य पेशेवरों के लिए विभिन्न भाषाओं में डाउनलोड करने योग्य और प्रिंट करने योग्य गहन जानकारी प्रदान करती हैं।

अंतर्राष्ट्रीय पृष्ठ पाँच नई भाषाओं में उपलब्ध करवाए गए हैं: स्पैनिश, वियतनामी, हिंदी, तागालोग, और पुर्तगाली

सूचना सेवा और अनुवाद की एसोसिएट मैनेजर, पेट्रीशिया कोर्रिया कहती हैं, "फ़ाउंडेशन की पक्षाघात-संबंधी जानकारी का अन्य भाषाओं में विस्तार कर समुदाय तक पहुँचाना अत्यंत महत्त्वपूर्ण है।"

“पक्षाघात खुद को किसी सीमा या भाषा तक सीमित नहीं रखता है। हमारी ज़िम्मेदारी है कि हम उन लोगों तक नवीनतम और सटीक सामग्री पहुँचाएँ जो कि अन्यथा इस तक पहुँच नहीं पा सकेंगे।"

संसाधन पृष्ठ, पक्षाघात से संबंधित सभी विषयों पर एक सुलभ और महत्त्वपूर्ण संसाधन प्रदान करते हैं, जिनमें पक्षाघात के कारणों से लेकर माध्यमिक स्थितियाँ, जीवन की गुणवत्ता और देखभाल संबंधी (केयरगिविंग) विषय शामिल हैं। इसके अलावा, स्पैनिश पृष्ठ में दो नई विशेषताएँ हैं: पीयर एंड फैमिली सपोर्ट प्रोग्राम और रीव कनेक्ट कम्यूनिटी। पक्षाघात समुदाय से जुड़ने के लिए दोनों कार्यक्रमों में समर्पित स्पैनिश पृष्ठ और पूरी तरह से द्विभाषी टीम सदस्य हैं। रीव फाउंडेशन आने वाले वर्ष में और अधिक भाषाओं के साथ अपनी वेबसाइट का विस्तार करना जारी रखेगा।

This project was supported, in part, by grant number 90PRRC0002, from the U.S. Administration for Community Living, Department of Health and Human Services, Washington, D.C. 20201. Grantees undertaking projects under government sponsorship are encouraged to express freely their findings and conclusions. Points of view or opinions do not, therefore, necessarily represent official Administration for Community Living policy.