यौन स्वास्थ्य / Sexual Health

यौन पहचान व्यक्ति की शख्सियत को परिवेष्ठित करने वाला एक महत्वपूर्ण पहलू होता है। हम अपने बारे में क्या सोचते हैं, हम दूसरों के साथ कैसे संबंध रखते हैं और दूसरे हमें कैसे लेते हैं, इसमें लैंगिकता महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

इसमें दो राय नहीं कि पक्षाघात शीरीरिक क्रिया-कलापों, संवेदनाओं और प्रतिक्रियाओं समेत व्यक्ति की लैगिकता को प्रभावित करती है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि पक्षाघात आंशिक है या संपूर्ण। यौन आनंद संभव है। लकवाग्रस्त औरतें संतान पैदा कर सकती हैं, लकवाग्रस्त मर्द पिता बन सकते हैं। लकवाग्रस्त लोग स्नेही और स्थायी संबंध बना सकते हैं।

प्रयोग और खुली बातचीत अपने यौन व्यक्तित्व को सफलतापूर्वक पुनर्परिभाषित करने की कुंजी है। इससे यौनक्रिया और अलिंगी अनुक्रिया की जिस्मानी संरचना और कार्य को समझने में मदद मिलती है। इससे उपयुक्त संसाधनों और जानकार स्वास्थ्य सुरक्षा पेशेवरों या सलाहकारों से संपर्क करने और उपलब्ध विकल्पों में सबसे उपयुक्त विकल्प का उपयोग करने मे भी मदद मिलती है।

पैरालिसिस रिसोर्स सेंटर ने यौन स्वास्थ्य खंड को लिंग के आधार पर विभाजित किया है। मर्दों की लैंगिकता वाले खंड में पुरुषों की यौनक्रिया और पक्षाघात के प्रभाव शामिल हैं। स्त्रियों की लैंगिकता वाले खंड में संतान उत्पत्ति और बच्चों की देख-रेख समेत स्त्रियों की यौनक्रिया संबंधी मूलभूत जानकारियां शामिल हैं।

Reeve Foundation's Paralysis Resource Guide (रीव फाउंडेशन की पक्षाघात संसाधन मार्गदर्शिका) डाउनलोड करें
हम सहायता के लिए उपलब्ध हैं

हमारे सूचना विशेषज्ञों की टीम प्रश्नों के उत्तर देने और 170 से भी अधिक भाषाओं में जानकारी देने में सक्षम है.

फोन करें: 800-539-7309

(अंतर्राष्ट्रीय कॉलर इस नंबर का प्रयोग करें: 973-467-8270)

सोमवार से शुक्रवार – सुबह 9:00 बजे से शाम 5:00 बजे ET तक या अपने प्रश्न भेजें.